विदेशी संस्थागत निवेशकों से 4.17 करोड़ शेयरों के लिए बोलियां मिलीं। खुदरा निवेशकों के लिए आरक्षित 87 लाख शेयर 1.46 गुना ज्यादा सब्सक्राइब हुए। Latest And Breaking Hindi